10 tips for successful blogging in hindi | ब्लॉग्गिंग में सफल कैसे हो

बहुत से लोग blogging करना चाहते है , लेकिन जानकारी के कमी के कारन वे अपना blog/website नहीं बना पाते . कुछ लोग इन्टरनेट पर search करके थोडा बहुत सिख भी लेते है , और अपना blog/website बनाने का प्रयास भी करते है , लेकिन वे उसमे भी fail हो जाते है

उनके fail होने के पीछे का कारन उनकी technical कमी नहीं होती , बल्कि उनके fail होने के पीछे एक ही reason होता है , और वो है , सिर्फ और सिर्फ ब्लॉग से पैसे कमाने के बारे में सोचना

ब्लॉग को successful बनाने के कई तरीके है , और इसे successful बनाने के लिए किसी तरह की कोई trick वैगरह की भी जरुरत नहीं पढ़ती , बल्कि आपके site के content ही king होते है

आपको अपना पूरा focus अपने content पर ही रखना चाहिए , न की किसी tricks पर , अगर आपके साईट पर content अच्छे होंगे तभी कोई visitor आयगा , न की आपके किसी tricks से , आइये देखते है blog को successful बनाने के कुछ tips

Tips for successful blogging :-

1. Content is king:-

आपके site के content ही king होते है , जिसके कारन कोई भी visitor आपके site तक पहुचते है , अगर आपके content ही अच्छी नहीं रहेगी तो कोई भी visitor आपके साईट में नहीं आयगा , अगर कोई visitor आ भी गया तो उसे जाने में ज्यादा time नहीं लगेगा.

हो सके तो आप अपने content को easily से easily language में represent करने की कोशिश करे , ताकि reader को एक बार पढ़ते ही पूरी तरह आपकी द्वारा दी जा रही information समझ में अह जाए.

2. Create seo friendly title:-

अगर content king है , तो SEO , Queen है , बिना SEO के आप search engines(i.e Google,Bing) पर rank नहीं कर पायंगे , specially title के साथ.

क्योकि post का title ऐसा section है , जो search engine में show होती है , means अगर कोई user अपने query type करता  है तो  उस user के query के result के लिए आपके post search engine में तभी आयंगे , जब आपके post के title SEO friendly हो.

ऐसी भी बात नहीं है , की आपकी post search engine में बिलकुल भी show नहीं होंगे , हो सकता है search engine आपके post के result next page में show करे , लेकिन ध्यान रखे की यह आपके लिए बुरी बात हो सकती है , क्योकि most of the user अपना result google के first result page पर देखते है.

अपने post के title का नाम 64 word के अन्दर ही रखे , अगर आप उस से ज्यादा रखते है , तो वो search engine में show नहीं होगा.

3. Know Your interest:-

ब्लॉग्गिंग start करने से पहले ये जान लीजिये की आपको किसमे interest है , और अपने interest के हिसाब से blogging कीजिए. हर दिन थोडा – थोडा अपना blog पर post डालना start कर दे.

अगर आप किसी successful blogger को copy करते है और उसी topic पर blogging करना start कर देंगे तो , कुछ ही दिन में आपका blogging से interest ख़तम हो जायगा , जो mostly new blogger के साथ होता है .

क्योकि अगर आपको किसी topic पर interest है , तो इसमें आपको अन्य another topic के compare में कुछ कम effort लगाना पड़ेगा

4. Don’t copy paste :-

किसी भी blog की content को copy करके paste न करे , इस से केवल और केवल आपका नुकसान होगा .

  • पहला यह की आपका totally time waste होगा.
  • दूसरा यह की अगर सामने वाले की post already rank कर रही है , तो फिर आपकी post की value गिर जाती है.
  • अगर site के owner ने आपके ऊपर copy right claim कर दिया तो वो फिर bonus हो जायगा.
  • same content , दो different ब्लॉग में दिखने से हो सकता है , search engine आपकी ranking decrease कर दे

At the end अगर आप कुछ copy करके paste भी कर रहे है , तो आप एक हिसाब से कोई value generate नहीं कर रहे है , और आपकी पूरी ब्लॉग्गिंग carrier आप पर नहीं बल्कि सामने वाले व्यक्ति के हाथो पर निर्भर है.

अगर सामने वाला ब्लॉग्गिंग करना छोड़ देता है तो किसी कारनवश हो सकता है आपको भी उसके कारन अपना ब्लॉग्गिंग करना छोड़ना पड़ जाये .

successful blogging

5. Write Unique article:-

जब भी आप किसी भी प्रकार article लिखे,उसके बारे में पूरी तरह से research कर ले, ताकि आप अपने visitor को सही तरह की जानकारी दे.

भले ही आप 2-3 day में एक article डाले , लेकिन वो पूरी तरह से unique हो , लोगो के काम का हो,क्योकि अगर वो आपके visitor के काम का ही नहीं होगा , तो वे उसे पढेंगे नहीं , और बिच में ही आपकी blog को छोड़ कर चले जायंगे

हो सके तो best यही होगा ,की आप किसी article को लिखने से पहले आप उस से related article 2-3 site पर पढ़ ले , इस से आपको यह फायदा होगा की आपको पढ़कर शायद कुछ नए points याद आ जाए , जो आप पढ़ रहे है , उस से better हो.

6. Search engine optimization:-

यह blogging में सबसे important factor में से एक है , जो हमारे ब्लॉग को Search engines तक पहुचाता है , अगर हम SEO (Search Engine Optimization) पर ध्यान नहीं देंगे , तो हम अपने Search Engine के visitor को खो देंगे.

अगर आप अपने search engine visitor को खो देंगे तो लगभग आपने सब कुछ खो दिया . क्योकि most of the user किसी भी blog में Search engines के through ही आते है .

SEO (Search Engine Optimization) के लिए जितनी practice की जाए उतनी कम है , फिर भी आप कुछ काम कर सकते है , जो मैंने आपको निचे point में बताया है.

  • सभी तरह की search engine में अपने blog को submit करे.
  • URL small और unique हो.
  • Focus Keyword पुरे post में 2.5% से ज्यादा न हो.
  • post के अंत में meta description add करे.
  • blog के लिए backlinks  बनाये.

7. Sharing is caring:-

अपने post को सभी social network पर share करना न भूले , क्योकि इन social network site पर बहुत से users active रहते है , अगर ऐसे में किसी की नजर आपके post पर पड़ती है , और वह visitor आपके title से attract होकर आपका post open करता है.

तो ऐसे आपको  बहुत से visitor मिल सकते है , इस कारन अपने किसी भी post को social media में share करना न भूले

ऐसी बहुत सी social network site है , जिनसे आपको visitors मिल सकते है , like facebook , Twitter , Pinterest , Google+ ,Linkedin etc.

8. Design part(Blog):-

आपके blog का design part आपके visitor के लिए बहुत मायने रखता है , हलाकि यह उसी तरह की बात है , जो दिखता है , वही बिकता है.

आपकी blog की design अच्छी होनी चाहिए , अगर वो अच्छी नहीं होगी , या फिर सही तरह से Open ही नहीं होगी , तो users तुरंत आपके site को छोड़कर चले जायंगे.

किसी भी ब्लॉग का theme पूरी तरह से responsive होना चाहिए , Responsive का मतलब आपकी theme(current theme जो आपके blog पर active हो) सभी प्रकार के device पर सही तरह से Open होना चाहिए.

suppose हो सकता है , आपने ऐसे theme select किया हो , जो computer में तो सही तरीके से open होता है , लेकिन mobile में सही तरीके से open नहीं होता , तो ऐसे में आप अपने Mobile visitor को खो देंगे .

जो आपके लिए loss साबित हो सकती है , क्योकि अभी current time में most of the users mobile device के through आते है.

9. Article ki format acchi rakhe:-

किसी भी article को लिखते समय उसका Format सही रखे , क्योकि अगर आपकी post की format सही रहेगी , तो visitors को भी पढने में मजा आयगा और साथ ही साथ आपको भी अपना content लिखने में मजा आयगा

आपको याद होगा की जब छोटे थे तब application लिखते थे , तो वो proper एक suitable format में होती थी , अब तो आप इस Example से समझ ही गए होंगे की किसी article को लिखते समय एक अच्छा format कितना जरुरी है.

  • किसी भी problem का solution Point to Point देने की कोशिश करे.
  • proper Bold , Italic , Underline जैसे style का use करते है , अपने content को well suitable दिखाने के लिए.
  • proper paragraph छोड़कर लिखे.
  • सही font का use करे.
  • Heading का color change कर सकते है.

10. Patience rakhe:-

blogging में हमेशा patience बनाये रखना पड़ता है , यहाँ एक ही रात में आप successful नहीं बन सकते,आपको इसमें काफी मेहनत करनी पड़ती है , तभी आप इसमें successful हो सकते है.

most of the time ऐसा होता है , की जब हम किसी काम को start करते है , तो उसमे problems आते है , मैंने भी जब blogging field में कदम रखा था , तो मुझे भी problem आई थी.

but लगातार मेहनत करने से सब ठीक हो गया , सो आपको भी हो सकता है , शुरू में कुछ परेशानी आये , तो please patience(धैर्य) बनाये रखे , और लगतार मेहनत करते रहे तो आप भी जरुर सफल होंगे. 🙂

Conclusion:-

हो सकता है , आप इन सभी steps को follow कर रहे हो , फिर भी आपको सफलता नहीं मिल रही हो , इसका reason कुछ भी हो सकता है , हो सकता है आप किसी important factor को miss कर रहे हो.

blogging में वैसे भी time मांगता है , तब आपको result मिलता है , सो patience बनाकर रखे , लगातार अपने reader को बनाये रखने के लिए अपने blog पर नए – नए article लाते रहे.

एकदम से blog में post डालना बंद न कर दे, अपने blog को technology के हिसाब से update करते रहे , आप सफल तभी होंगे जब आप मेहनत करेंगे

happy blogging 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *